ऋषिर्णा सभागार कलेक्ट्रट में स्टॉफ बैठक का आयोजन

देहरादून, जिलाधिकारी श्रीमती सोनिका की अध्यक्षता में ऋषिर्णा सभागार कलेक्ट्रट में स्टॉफ बैठक का आयोजन किया गया। बैठक जिलाधिकारी ने समस्त उप जिलाधिकारियों सहित सम्बन्धित अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिए गए।
जिलाधिकारी ने समस्त उपजिलाधिकारियों को अपने न्यायालय में लम्बित वादों का निस्तारण करने हेतु नियमित कोर्ट लगाने के निर्देश दिए। उन्होंने निर्देशित किया कि 5 वर्ष एवं एक वर्ष से 3 वर्ष तक के लम्बित वादों को प्राथमिकता से निस्तारण करना सुनिश्चित करें। उन्होंने मुख्य देय एवं विविध देय वसूली कार्यों में तेजी लाने के निर्देश दिए। साथ ही दाखिला खारिज के प्रकरणों में तेजी से अभिलेख जांचते हुए कार्यवाही करें। उन्होंने तहसीलदारों को निर्देशित किया कि अपने से सम्बंधित रिट को ध्यानपूर्वक देखें तथा रिट में संबंधित लेखपाल से जांच कराते हुए सुस्पष्ट आख्या प्रेषित की जाए। उन्होंने उपजिलाधिकारियों को अंश निर्धारण कार्यों के साथ ही स्टॉम्प वाद निस्तारण करने के निर्देश दिए। निर्देशित किया कि भूमि की खरीद-फरोख्त के दाखिला खारिज के प्रकरणों में पुराने अभिलेखों का मिलान करें। वैध अभिलेखों के साथ ही दाखिला खारिज प्रकरण निपटाएं। साथ ही निर्देशित किया कि भूमि धोखाधड़ी के वादों में पक्ष बनाने से पहले दोनों पक्षों के अभिलेखों की जांच उपरान्त ही पार्टी बनाई जाए। उन्होंने आबकारी अधिकारी को निर्देशित किया कि शराब की दुकानों पर ओवर रेटिंग की शिकायतों पर जांच करते हुए कार्यवाही करें ओवर रेटिंग करने वालों के विरूद्ध भारी अर्थदण्ड की कार्यवाही करें। उन्होंने निर्देशित किया कि शराब की दुकानों पर सीसीटीवी कैमरे लगाए जाए। खाद्यय विभाग की समीक्षा करते हुए जिलाधिकारी ने जिला पूर्ति अधिकारी को निर्देशित किया कि खाद्य सामग्री घटतोली की शिकायतों पर जांच करते हुए कार्यवाही करें। साथ ही राशन की दुकानों पर सीसीटीवी कैमरे लगाने के भी निर्देश दिए। पुलिस विभाग संबंधी वादों यथा बलवा, किडनैपिंग, पोक्सो एक्ट, दहेज, बलात्कार की समीक्षा के दौरान डीजीसी को पोक्सो एक्ट, दहेज, बलात्कार प्रभावी पैरवी करने के निर्देश दिए।
बैठक में जिलाधिकारी एवं वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ने समस्त उपजिलाधिकारियों एंव तहसीलदारों को संबंधित एसओ एवं सीओ के साथ समन्वय करते हुए प्रतिदिन संवाद करने के निर्देश दिए। जिससे क्षेत्र में घटित हो रही घटनाओं की जानकारी रहे ताकि बेहतर समन्वय से आपदा के दृष्टिगत अच्छे तालमेल से राहत बचाव कार्यों में त्वरित प्रक्रिया दी जा सकें।
बैठक में डीआईजी/वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक दलीप सिंह कुंवर, अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व रामजी शरण शर्मा, अपर जिलाधिकारी प्रशासन डॉ0 एस.के बरनवाल, मुख्य कोषाधिकारी रोमिल चौधरी, सहित समस्त उपजिलाधिकारी एवं तहसीलदार व राजस्व कार्मिक/स्टॉफ तथा वर्चुअल के माध्यम से तहसील ऋषिकेश, डोईवाला, मसूरी, विकासनगर, चकराता के उपजिलाधिकारियों ने वर्चुअल माध्यम से बैठक में प्रतिभाग किया।

About The Singori Times

View all posts by The Singori Times →

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *